सन्नाटा


दिन रात गूँजती सड़क पर
आज ये सन्नाटा,
तुम्हें नहीं मालूम,अभी तो
गुज़रा है साया मौत का
एक छटपटाता हुआ जिस्म
किनारे पड़ा है,ये कौन है..
क्या इंसान है,या फिर
मन इसी उधेड़बुन में था
तभी आई आवाज़
कोई आओ मेरे पास
मैं हूँ एक इंसान,तुम्हारी तरह
आकर मुझे बचाओ..
उसका शरीर रक्त से सना था और
पूरा जिस्म
घावों से भरा।
एक क्षण मन ने कहा
इसकी मदद करो
इंसान हो,इंसानियत का
हक तो अदा करो।
दूसरे ही क्षण बदला मन,नहीं
पता नहीं है ये कौन
मरता है तो मरे
कल न सही तो आज ही..
तभी धिक्कारती है-अन्तरात्मा
सोच कल तेरे साथ भी
हो सकता है ऐसा
उस वक्त कोई आए तेरे जैसा
तू यूँ ही तोड़ देगा दम
तड़प कर
पड़ी रहेगी तेरी लाश भी
सड़क पर
न कोई नज़र डालेगा
उस पर
तब तू भी यूँ ही
चिल्लाएगा
लोग हँसेंगे और तू
रो भी न पाएगा…

18 टिप्पणियाँ

Filed under कविता

18 responses to “सन्नाटा

  1. alok

    jab tumhara janm hua tha,
    tum roe the -sari duniya ne jashn manaya tha,
    kuch aisa karo ki—-
    jab tumhari maut ho..to….
    sari duniya roe aur tum.. jashn manao.—- “Robin Sharma”

    Life is a god,s gift, We should help each – other to give worth…. our life.

    Good thoughts……as well .

  2. किसी और की सोचें
    वो दिल अब कहाँ बचे ?
    सब निरंतर अपने बारे में
    सोचते सोचते ज़िंदा ही
    मर गए
    ज़िंदा लाशों से घूम रहे

  3. आप इतना मार्मिक भी लिखती है!

    हम सब पुराने जमाने के लोग होते जा रहे हैं… इंसानियत, ईमानदारी, परोपकार… कितना सोचते हैं हम इनके बारे में!

  4. अति मार्मिक….अच्छा लगा प्रवाह!!!

  5. धन्यवाद समीर जी,
    रचना आपको पसंद आई जानकर खुशी हुई…

  6. bhargav

    am numb… beautiful… “soya hoon safed chadar odhe..kinare pe.. ise kafan mat samajna…”

  7. some work comes directly from the heart, and it really touches the heart. this is one of them. thoughts from the heart of an emotional person.

  8. यशवन्त माथुर


    कल 07/12/2012 को आपकी यह बेहतरीन पोस्ट http://nayi-purani-halchal.blogspot.in पर लिंक की जा रही हैं.आपके सुझावों का स्वागत है .
    धन्यवाद!

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s