सैन्टा तुम आना ज़रूर


सैन्टा तुम आना इस बार भी ज़रूर
भर लाना अपनी झोली में खुशियों का सुरूर।
ठण्ड से कहना कि आए थोड़ा हौले
कई बच्चे-बूढ़े हैं सड़कों पे फैले
रात की गर्म चादर है न उनके करीब
भर लाना अपनी झोली में उनका नसीब
सैन्टा तुम आना इस बार भी ज़रूर
भर लाना अपनी झोली में खुशियों का सुरूर।
सूरज से कहना न इतना सताए
ले आना चन्द किरणे तुम उनके   लिये
जो आँखों से कभी न जीवन देख पाए
सजा देना उन आँखों में मीठे सपनों का नूर
सैन्टा तुम आना इस बार भी ज़रूर
भर लाना अपनी झोली में खुशियों का सुरूर।
हैं कितने ही अन्जान जीवन के सुख से
भर देना उन सबमें जीने का जुनून
गर आसाँ नहीं है तो मुश्किल न कहना
भर लाना अपनी झोली में हौसला भरपूर
सैन्टा तुम आना इस बार भी ज़रूर
भर लाना अपनी झोली में खुशियों का सुरूर।

34 टिप्पणियाँ

Filed under कविता

34 responses to “सैन्टा तुम आना ज़रूर

  1. Indu ji aapke is prayer mei main bhi saath hu….bahut hi sundar kavita aur is samay santa se hai kuch ashaa aur zyaada…

  2. duaaein karte rahnaa
    nirantar hanste rahnaa
    santaa aayegaa zaroor

    nice cute expression

  3. कल 23/12/2011को आपकी यह पोस्ट नयी पुरानी हलचल पर लिंक की जा रही हैं.आपके सुझावों का स्वागत है .
    धन्यवाद!

  4. Indu Ji…!
    Very nice poem, honest and deep thoughts with hope and optimism,
    great work…! 🙂

  5. Asha

    बहुत सुन्दर भाव लिए रचना |
    आशा

  6. Sanjay Mishra Habib

    बहुत खूब…. वाह!
    सादर बधाई…

  7. यह कामना व्‍यर्थ नहीं जाएगी …वाह बहुत ही अच्‍छा लिखा है ।

  8. हाँ अब इस देश के गरीबों का सैंटा ही कुछ कर सकते हैं!

  9. सर्वे भवन्तु सुखिनः, सर्वे सन्तु निरामया
    सर्वे भद्राणि पश्यन्तु, माँ कश्चिद् दुखः भागभवेत ||

  10. जब तक इंसान है, तब तक सेण्टा के आने की गुहार और सेण्टा का आना जारी रहेगा!

  11. lovely poem…

    festivities have become a commercial affair nowadays. i still remember my childhood where we had plum cake and rasna party. Nostalgic.

    Cheers !!

  12. आमीन. बहुत अच्छा लगा. बड़े दिन की बधाईयाँ.

  13. bahut achi kavita Indu ji…

    merry christmas to you and all!!!

    regards
    rahul

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s