न कोई है कवि न कोई कविता यहाँ !!!


न कोई है कवि न कोई कविता यहाँ
लिपटी है भावों में जीवन सरिता यहाँ।

लहरों में उठता-गिरता जीवन का रूप
सूरज ही दिखाता है हर आईना यहाँ।

बहते हुए अनवरत अनायास यूँ रुकना
हाँ! अमावस की रानी का राज भी यहाँ।

लावे सा जलना या हिम में बदलना
न कुछ अपने बस में है दिखता यहाँ।

क्या मैंने लिखी -क्या तुमने लिखी
नहीं कोई कविता है, कविता यहाँ।

भाव बह गए जब शब्द की नदी में
सरिता ही कहलाई तब कविता यहाँ।

14 टिप्पणियाँ

Filed under कविता

14 responses to “न कोई है कवि न कोई कविता यहाँ !!!

  1. rajtela1

    जब याद आयी
    कलम चलने लगी
    शब्दों से कविता बन
    भावों की सरिता बहने लगी
    सुन्दर शब्द संयोजन,मन भावन……

  2. अनाम

    लावे सा जलना या हिम में बदलना
    न कुछ अपने बस में है दिखता यहाँ

    GR8, Wow -Wonderful

  3. Very nice ……………….

    From the desk of:
    Agarwal P.F.

    Date: Tue, 5 Mar 2013 05:22:33 +0000
    To: agarwal_pavan@hotmail.com

  4. suneel

    सुंदर रचना …इंदु जी … भाव बहते जब शब्द की नदी में ..तभी तो कवि की कविता बनती हें कहने का मतलब भाव कवि और शब्द कविता बन जाती हैं … और ये बात भी सही है सरिता ही कविता कहलाती है

  5. यशवन्त माथुर

    “क्या मैंने लिखी -क्या तुमने लिखी
    नहीं कोई कविता है, कविता यहाँ।

    भाव बह गए जब शब्द की नदी में
    सरिता ही कहलाई तब कविता यहाँ।”

    ये पंक्तियाँ विशेष अच्छी लगीं ।

    सादर

  6. मन भावों की नदी बह रही, एक सागर बन गया है।

  7. anju(anu)

    वाह बहुत खूब …हर भाव स्पष्ट है

  8. यशवन्त माथुर


    दिनांक 07/03/2013 को आपकी यह पोस्ट http://nayi-purani-halchal.blogspot.in पर लिंक की जा रही हैं.आपकी प्रतिक्रिया का स्वागत है .
    धन्यवाद!

  9. Abhishek Kumar Jha Abhi

    न कोई है कवि न कोई कविता यहाँ
    Waah Lazawaab Bhaw. Bahut Sundar

  10. dnaswa

    लावे सा जलना या हिम में बदलना
    न कुछ अपने बस में है दिखता यहाँ …

    बहुत लाजवाब शेर लिखे हैं सभी … अपने बस में कभी भी कुछ नहीं टोह … बस प्रयास के अलावा …

  11. Rashmi sharma

    भाव बह गए जब शब्द की नदी में
    सरिता ही कहलाई तब कविता यहा….बहुत खूब

  12. वाह! शब्दों का क्या बहाव है|

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s