Tag Archives: गर्म

जलन !!


गर्म वैक्स की पट्टियाँ
लगाते , खींचते
वो हँस रही थी
नहीं हो रहा था
उसे कोई दर्द
गर्म वैक्स की पट्टियों का
घर था उसका
सब की सब
चिपकी थीं उसके जिस्म पर !

 

3 टिप्पणियाँ

Filed under कविता